Tridev Mandir, Varanasi – History, Timing detail in Hindi

The Holy Tridev Mandir is located in Varanasi. Find it’s history, timing and best time to visit in Hindi – जानिए त्रिदेव मंदिर से जुडी जानकारी | यह मंदिर भारत के पवित्र एवं ऐतिहासिक शहर काशी में स्थित है | उत्तर प्रदेश स्थित शहर काशी जिसे आज लोगो वाराणसी या बनारस के नाम से जानते है यह शहर देश की पवन भूमि के सूचि में सम्मिलित है | यहाँ पर विभिन्न प्रकार के प्रसिद्द मंदिर आदि स्थित है | इस स्थान पर कई देवी देवताओ के मान्य स्थल कहा जाता है | गंगा के किनारे स्थित काशी हिन्दू धर्म के अनुसार सबसे पवित्र स्थल माना जाता है जहा कई सारे घाट है | यहाँ के सभी घाट इतिहास में वर्णित है एवं सभी घाट एक कहानी कहती है | इस पावन शहर में स्थित त्रिदेव मंदिर स्वयं में एक अदभुत मंदिर है | इस मंदिर में भगवान का दर्शन एवं पूजा के लिए भक्तो की भीढ़ लगी रहती है | Img source – Quora.com

tridev mandir varanasi detail in Hindi



About

इस मंदिर में तीन भगवान श्री सालासर बालाजी, श्री खाटू श्याम जी एवं माता रानी सती स्थापित है | यहाँ स्थित इन तीनो भगवान के कारण लोग इस मंदिर को त्रिदेव मंदिर के रूप में जानते है | यहाँ स्थित सभी भगवान की अलग अलग महत्व है | इस मंदिर के बारे में कहा जाता है की इसके भव्य दृश्य एवं यहाँ पर स्थित दिव्य मूर्ति यहाँ लोगो को काफी आकर्षित करती है | हिन्दू कैलेंडर के अनुसार श्रावन मास में इस मंदिर में भक्तो की तादात काफी बढ़ जाती है | कहा जाता है की इस माह में स्वयं भगवान अपने भक्तो के मन की मुराद को पूरी करते है | जानिए और दुसरे मंदिर के बारे में जैसे रघुनाथ मंदिर और देवी तालाब मंदिर के बारे में जहाँ लाखों भक्त दर्शन करने हर साल आते हैं | आइए जानते है इस मंदिर में स्थित तीनो भगवान के बारे में |



श्री खाटू श्यामजी – श्री खाटू श्यामजी के बारे में कहा जाता है की ये भगवान विष्णु के कलयुगी अवतार है जिनकी महिमा स्वयं में अपार है | इनके बारे में ऐसा माना जाता है की महाभारत के यूद्ध के दौरान स्वयं भगवान श्री कृष्ण ने बर्बरीक को यह वरदान दिए थे की कलयूग में लोग तुम्हारी पूजा करेंगे और लोग तुम्हे श्याम के नाम से जानेंगे |

माता रानी सती – माता रानी सती राजस्थान में दादी जी के रूप में प्रसिद्द है इन्हें लोग माता दुर्गा का अवतार एवं शक्ति के प्रतिक के रूप में पूजते है | इनके बारे में कहा जाता है की माता के पति की हत्या के बाद इन्होने अपने पति के हत्यारों को मार कर बदला लिए एवं इसके उपरांत सती अपने सती होने की इक्षा को पूरी की |

श्री सालासर बालाजी – सालासर बालाजी भगवान शिव के अवतार है | इनके मंदिर में दादी मुछ वाले हनुमान जी की प्रतिमा स्थापित है इनके मंदिर में प्रवेश करते ही लोगो एक अदभुत अलौकिक शक्ति का आभास होता है |

Best Time to Visit

अगर आप त्रिदेव मंदिर का दर्शन करना चाहते है या यहाँ के कलाकृतियों का लुफ्त उठाना चाहते है तो आप वर्ष के किसी भी समय यहाँ आ सकते है | यह मंदिर भक्तो के लिए वर्ष भर खुला रहता है | परन्तु इस मंदिर को श्रावन के महीने में बड़ा अदभुत तरीको के सजाया जाता है एवं इस समय यहाँ पर लोगो की तादात भी अधिक होता है | इस मंदिर के बारे में कहा जाता है की इस माह में यहाँ सभी भक्तो की मनोकामना पूरी होती है | जिस कारण इस महीने में यहाँ की विधि व्यवस्था को भी सही रखा जाता है जिससे दर्शक को तकलीफ नहीं होती |

How to Visit

By Air – इस मंदिर के लगभग 27 km की दुरी पर पर Lal Bahadur Shastri International Airport स्थित है जहा तक आने के लिए आपको भारत के किसी भी जगह से हवाई जहाज उपलब्ध है |

By Train – यह मंदिर Manduadih railway station से लगभग 6 km एवं Varanasi Junction  से भी 6 km की दुरी पर स्थित है जहा से आप taxi, टेम्पो या अन्य वाहनों का इस्तेमाल कर सकते है |

By Road – भारत के सभी कोने से आपको वाराणसी तक की बस सेवा मिल जाएगे जिसके मदद से आप वाराणसी बस पड़ाव तक पहुच सकते है जो मंदिर से 6 km की दुरी पर स्थित है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *