Chitrakoot Dham (Karwi) in Hindi – चित्रकूट धाम

यह तीर्थ स्थल Chitrakoot Dham जिसे Karwi भी बोला जाता है, Uttar Pradesh में स्थित है | जानिए इस धाम से जुडी history, दर्शन, कथा से जुडी जानकारी – यह एक tourist place भी है, जानिए near places to visit, और कौन सा best time है जाने के लिए | भारत में आस्था की नगरी कही जाने वाली राज्य उत्तर प्रदेश है | इस राज्य में कई प्रकार के मंदिर स्थित है | गंगा नदी के किनारे पर स्थित यह राज्य साधू संतो की नगरी है यहाँ पर संधू संत भारी मात्रा में निवास करते है | इस राज्य में कई ऐसे केंद्र भी है जो लोगो को अपनी ओर आकर्षित करती है इसके इन केन्द्रों में एक केंद्र के रूप में चित्रकूट धाम भी मौजूद है | उत्तर प्रदेश में स्थित चित्रकूट धाम में लोगो को आकर्षित करने के लिए कई मंदिर एवं घाट स्थित है जो लोगो को अपनी और आकर्षित करती है |

Chitrakoot Dham (Karwi)



About

Chitrakoot Dham भारत में स्थित राज्य उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिला का मुख्यालय एवं नगरपालिका बोर्ड है | पहले इसे करवी शहर के नाम से जाना जाता था जिसे उत्तर प्रदेश सरकार ने 6 मई 1997 को एक नए जिला की स्थापना की जिसे चित्रकूट नाम दिया गया | इस जिले को आज छत्रपति साहूजी महाराज नगर के नाम से जाना जाता है | यह नगर इस जिला के मुख्यालय बना है | इस जिले के उत्तर में कौशम्बी, दक्षिण में मध्य प्रदेश का जिला सतना एवं रेवा, पूर्व में इलाहाबाद एवं पक्षिम में बाँदा स्थित है |

Near Places to Visit / आस पास देखने योग्य दर्शनीय स्थल

यह जिला मंदाकनी नदी के किनारे पर स्थित है | 2001 की गणना के अनुसार इस जिले का कुल जनसँख्या 48,800 था जिसमे 54% पुरुष थे एवं 46% महिला थी | अगर आप अपने मनोरंजन के लिए चित्रकूट धाम में आते है तो यहाँ आपको कई प्रकार के पर्यटन स्थल मिलेंगे जहाँ आप अपना मनोरंजन कर सकते है |

रामघाट – रामघाट जिसे चित्रकूट का प्रवेश द्वारा के रूप में जाना जाता है | यहाँ आप नौका विहार का लुफ्त उठा सकते है | नौका विहार के साथ साथ बच्चो के लिए बोट पर कई प्रकार के मनोरंजन के साधन भी उपलब्ध होते है जो उन्हें काफी रोमांचित करता है | यहाँ नौका विहार का लुफ्त उठाने के लिए आपको 100 से 150 Rs पार्टी व्यक्ति चुकाना पड़ता है |

कामदगिरि परिक्रमा – रामघाट से 1.5 km की दुरी पर स्थित कामदगिरी परिक्रमा स्थित है जहा आप 5 km की परिक्रमा का लुफ्त उठा सकते है | इस परिक्रमा के क्रम में आपको ढेर सारे बन्दर मिलेंगे जो आपके मनोरंजन का एक साधन हो सकते है | इसी तरह और कई किले हैं अपने भारत देश में जैसे Taragarh Fort  और Mehrangarh Fort जिससे जुडी जानकारी आप यहाँ पर और जान सकते हैं |



हनुमान धारा – हनुमान धारा रामघाट से 3 km की दुरी पर स्थित है जो पहाड़ी क्षेत्र है | यहाँ मुख्य 3 स्थान है त्रिमुखी हनुमान मंदिर, पंचमुखी हनुमान मंदिर एवं सीता रसोई | यहाँ पर हनुमान की मूर्ति पर पानी की एक धारा गिरती रहती है जिसके श्रोत के बारे में आज तक किसी को भी पता नहीं चल पाया है | यहाँ स्थित सीता रसोई एक बहुत ही पुराना कमरा है जिसके बारे में कहा जाता है की राम वनवास के दौरान सीता जी यहाँ खाना पकाया करती थी | इस स्थान पर कई सारे लंगूर आपको देखने को मिलेंगे जिन्हें आप अपने हांथो से चना खिला सकते है जो बच्चो को काफी लुभाता है |

गुप्त गोदावरी गुफा – रामघाट से 20 km की दुरी पर स्थित गुप्त गोदावरी गुफा है जहाँ मुख्य 3 गुफा स्थित है | इन गुफाओ में पानी के लगातार बहाने के कारण यहाँ जाना संभव नहीं है | यहाँ पर आपको ढेर सारे केकड़े देखने को मिलेंगे जो पर्यटकों को कभी भी नुकसान नहीं पहुचाते |  और हाँ आप जामवंत गुफा के बारे में यहाँ जरुर पढ़े |

इस प्रकार चित्रकूट धाम में आपको और भी कई पर्यटन स्थल देखने को मिलेंगे जिसमे से कुछ लोगो के लिए खुला है तो कही-कही पर लोगो का जाना शक्त मना है, ताकि कोई दुर्घटना ना घटे |

Best Time to Visit Chitrakoot Dham

अगर आप चित्रकूट धाम के पर्यटन स्थल का लुफ्त उठाना चाहते है तो आप अक्टूबर से मार्च के बीच आ सकते है इस समय यहाँ का मौसम सुहावना एवं शुष्क होता है | अन्य समय गर्मी एवं वर्षा ऋतू में इन पर्यटन स्थल पर आप लुफ्त नहीं उठा सकते | गर्मी के दिनों में यहाँ का तापमान 47oC तक होता है जिसमे पर्यटक घूमना पसंद नहीं करते एवं वर्षा ऋतू में ये सभी स्थान पर जल बहाव अधिक होने के कारण यह खतरनाक हो जाता है |

How to Reach /  कैसे पहुचे

By Air – अगर आप हवाई मार्ग से आ रहे है तो आप इसके नजदीकी हवाई पतन इलाहाबाद तक आ सकते है जो 120 km की दुरी पर स्थित है | वह से आप taxi या cab का इस्तेमाल कर सकते है |

By Train – रेल गाड़ी से आने के क्रम में आप चित्रकूट स्टेशन तक आ सकते है जहा से आप पर्यटन केंद्र घुमाने के लिए निजी वाहनों का इस्तेमाल कर सकते है |

By Bus – चित्रकूट धाम राष्ट्रिय राजमार्ग 76 पर स्थित है जो पिंडवारा एवं इलाहाबाद के बीच स्थित है | इस मार्ग पर हमेशा बसों का आवागमन होता है जो आपको आसानी पूर्वक चित्रकूट धाम तक पंहुचा सकते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *