Anasakti Ashram, Kausani in Hindi

Yah Anasakti Ashram ek religious place hai jo ki Kausani, Uttarakhand may hai. Janiye iski history, best time and places to visit, Entrance fees in Hindi. Anasakti Ashram Uttarakhand राज्य के बहुत ही खुबसूरत hill station Kasauni में स्थित है | यह जगह मुख्य रूप से हिमालिय दर्शन के लिए famous है, इस स्थान के आस पास बहुत सारे चाय बगान है जो की देखने में बहुत ही खुबसूरत है और मन को मोह लेते हैं | कौसानी के सबसे लोकप्रिय स्थलों में से एक, Anasakti Ashram जगह को आस्था के रूप में गांधी आश्रम के रूप में जाना जाता है | कौसानी में यह एक प्रसिद्ध शांतिपूर्ण स्थान है जहां 1929 में महात्मा गांधी 2 सप्ताह तक रुके थे | इस जगह का वर्णन गांधी जी खुद भारत के Switzerland के रूप में किया गया था |

Anasakti Ashram



History :

1929 में जब गाँधी जी भारत का दौरा कर रहे थे तब उन्होंने अपनी थकान को मिटाने के लिए कौसानी के एक चाय बगान के मालिक के gust house में 2 दिन केलिए रुकना चाहे | उनके यह विश्राम करने के दौरान गाँधी जी की नजर हिममंडित पर्वत पर पड़ी, उर पर्वतमाला पर सूर्य की किरणे को देख कर महात्मा गाँधी मुग्ध हो गयें और अपने दो दिन के विश्राम को भूल कर वे continune यहाँ 14 दिनों तक रुके रहे, और उन्ही 14 दिनों में उन्होंने गीता पर आधारित खुद की पुस्तक ‘अनासक्ति योग’ को लिख डाला |

आश्रम को मानसिक शांति को बनाने के तथा उसे प्राप्त करने के उद्देश्य से निर्माण किया गया है और इसे पर्यावरण प्रदूषण मुक्त भी बनया गया है | आश्रम के अंदर के छोटा सा museum भी है जिसमे गाँधी जी के कुछ शब्दों और तस्वीरों को रखा गया है | इसके अब एक अध्ययन और अनुसंधान केंद्र के साथ विलय merged कर दिया गया है | आश्रम में पर्यटकों और visitors के लिए एक आवास की सुविधा भी है, intrested पर्यटको को पुस्तकालय की सुविधा के साथ ही रसोईघर की पेशकश भी की जाती है । यह महात्मा गांधी के साथ अपने लगाव के कारण एक प्रसिद्ध आश्रम बन गया है । इस आश्रम में स्वाभाविक रूप से प्रिय और socio-cultural परिदृश्य और स्वस्थ पर्यावरण का एक स्थान है | इस प्रकार, अनासक्ति आश्रम वास्तव में गांधी जी की शिक्षाओं पर आधारित है और हर किसी को अपने आत्मा और मन में शांति प्रदान करता है |



Best Time to Visit :

वैसे तो यह आश्रम सालो भर खुल रहता है, और पुरे साल इस आश्रम का माहौल आनंद माय रहता है | लेकिन यदि आपक Kasauni घुमने का plan कर रहे है तो अप्रैल से जून और सितंबर से अक्टूबर का महीने आदर्श रूप से कौसानी के इस सरल आश्रम का माहौल का आनंद लेने के लिए सबसे अनुकूल समय रहता है ।

Nearby Attractions :

Kasauni में Anasakti Ashram के अलावा यहाँ और भी कई दर्शानिया स्थान है जो की देखने लाया है जैसे की :-

  • Kausani Tea Estate
  • Sumitranandan Pant Museum
  • Rudradhari Temple & Caves
  • Sarla Ashram
  • Bajinath Temple

How to Reach :

कौशानी बस स्टैंड से 1 किमी की दुरी पर आनाशक्ति आश्रम स्थित है, जो की बस स्टैंड बाद आसानी से चल कर आश्रम तक पंहुचा जा  सकते हैं | निकटतम रेलवे स्टेशन katmandu है जो की कसौनी से 135km दूर है, और निकटतम airport Pantnagar 171 km है इसके अलावा निकटतम airport Delhi है जो की कसौनी से 401km दूर है |

Entrance Fee :

Anasakti Ashram में प्रवेश नि: शुल्क है,लेकिन यदि आप यहाँ रुकना चाहते है तो आवास 300 रुपये प्रति कमरा के दर पर उपलब्ध है |

Visiting Time: 4 to 7 pm

Visit Duration: 1-2 hours

Interesting Facts :

  • अनाशक्ति आश्रम में मौजूद संग्रहालय उस समय को प्रदर्शित करता हैं, जब गांधीजी लगभग दो हफ्ते तक यहां रहते थे और उन पुरानी समयों को अछे तरीके से teleport कर के रखा गया है, जो की आपको महात्मा गांधी के सिद्धांतों और उनकी शिक्षाओं की याद दिलाएंगे ।
  • उन लोगों के लिए एक ध्यान कक्ष है, जो कुछ ही क्षणों में अपने मन में शांति बनाए रखना चाहते हैं। आप यहाँ चुपचाप बैठ कर meditate कर सकते हैं और जो आपके यात्रा और आत्मनिरीक्षण पर आपकी मदद कर सकते हैं |
  • यहाँ उपलब्ध कमरों में सभी आवश्यक सुविधाएं हैं और उपलब्ध भोजन शाकाहारी भोजन है । इसलिए, यहाँ रहने से हमे कम से कम तरीकों से किस तरह से लाभ उठाया जा सके इसकी ज्ञान मिलती है, जो की आपको महात्मा गांधी की तरह एक सरल जीवन जीने के लिए सिखने में मदद करती है |
  • यहाँ पुस्तकालय भी है और आप वहां अपनी सदस्यता का लाभ उठा सकते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *